PM Vishwakarma Yojana 2024 Online Apply (New Registration) – Qualification, Documents, Benefits, Features

पीएम विश्वकर्मा योजना क्या है? कितना मिलेगा लोन और कैसे करें – पीएम मोदी ने अपने 73वें जन्मदिन के अवसर पर देशवासियों के लिए पीएम विश्वकर्मा योजना (PM Vishwakarma Yojana) को शुरू करके एक बड़ा तोहफा दिया। पीएम विश्वकर्मा को शुरुआत में पांच के लिए 2027-28 तक लागू किया जाएगा| पीएम विश्वकर्मा योजना 2023 की मदद से पारंपरिक कौशल वाले लोगों को अपना कारोबार को शुरू कर सकते है| पीएम विश्वकर्मा योजना का उद्देश्य लोगों को लोन के साथ साथ स्किल ट्रेनिंग भी प्रदान करना है| पीएम विश्वकर्मा योजना में लोहार, सुनार, कुम्हार, कारपेंटर और चर्मकार जैसे पारंपरिक स्किल वाले लोगों को शामिल किया गया है |

पीएम विश्वकर्मा योजना क्या है?

पीएम विश्वकर्मा योजना के अंतर्गत आवेदक को खुद का कारोबार शुरू करने के लिए लोन की सुविधा मिलेगी, परन्तु इस योजना का लाभ लेने के लिए आवेदक के पास कोई पारंपरिक स्किल होनी आवश्यक है। इस योजना में 3 लाख तक का लोन मिल सकता है। पहले चरण में बिजनेस स्टार्ट करने हेतु आपको 1 लाख रुपये का लोन दिया जाता है | इसके बाद बिजनस के विस्तार के लिए दूसरे चरण में सिर्फ 5 फीसदी की ब्याज दर पर 2 लाख रुपये तक का लोन प्राप्त कर सकते है|

भारतीय सरकार द्वारा पीएम विश्वकर्मा को लागू किया जाएगा और इस योजना के वित्त पोषित के लिए 13,000 करोड़ रुपये का प्रारंभिक परिव्यय दिया जायेगा| सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्रालय (MoMSME), कौशल विकास और उद्यमिता मंत्रालय (एमएसडीई) और वित्तीय सेवा विभाग (डीएफएस), वित्त मंत्रालय (एमओएफ), भारत सरकार इस योजना का संचालन करेंगे|

PM Vishwakarma Yojana

  • PM Vishwakarma Yojana has been launched for small corporations by implementing timelines and fund allocation
  • the government aims to enhance the scheme, including PM Kisan Samman Nidhi Yojana, Jal Jeevan Mission, Ayushman Bharat Yojana, and Livestock Scheme with the help of this PM scheme
  • 2.5 lakh crore rupees will be given to farmers through PM Kisan Samman Nidhi Yojana.
  • 2,00,000 crore rupees will be allotted for the Jal Jeevan Mission.

Objectives

  • Enables the recognition of artisans and craftspeople as Vishwakarma.
  • It offers skill upgradation to hone their skills and make relevant and suitable training opportunities.
  • Offer support for better and modern tools to enhance their capability, productivity, and quality of products.
  • Offer the intended beneficiaries easy access to collateral-free credit and reduce the cost of credit by providing interest subvention.
  • Offers incentives for digital transactions to encourage the digital empowerment of these Vishwakarmas.

Eligible Trades

Wood Based

  1. Carpenter (Suthar)
  2. Boat Maker

Iron/Metal Based*/ Stone Based

  1. Armourer
  2. Blacksmith (Lohar)
  3. Hammer and Tool Kit Maker
  4. Locksmith
  5. Sculptor (Moortikar, stone carver), Stone Breaker

Gold/Silver Based

  1. Goldsmith (Sunar)

Clay Based

  1. Potter (Kumhaar)

Leather Based

  1. Cobbler (Charmakar)/
    Shoesmith/ Footwear Artisan

Architecture/ Construction

  1. Mason (Raajmistri)

Others

  1. Basket/ Mat/ Broom Maker/ Coir Weaver
  2. Doll & Toy Maker (Traditional)
  3. Barber (Naai)
  4. Garland Maker (Malakaar)
  5. Washerman (Dhobi)
  6. Tailor (Darzi)
  7. Fishing Net Maker

PM Vishwakarma Yojana Amount

  • Minimum Amount = Rs. 15,000
  • Maximum Amount = Rs. 1,00,000

PM Vishwakarma Yojana Registration

  • Fill out the PM Vishwakarma Yojana Registration Form.
  • Visit the official website i.e. https://pmvishwakarma.gov.in/
  • For the registration process, enter the required details such as an Aadhaar card, bank account number, and passbook, along with talent certificates and so on.
  • Read all the guidelines given on the website
  • Submit the application form.

पीएम विश्वकर्मा के अधीन कारोबार

  • बढ़ई (सुथार/बधाई),
  • नाव बनाने वाला
  • अस्रकार
  • लोहार (लोहार)
  • हथौड़ा और टूल किट निर्माता
  • मरम्मत करनेवाला
  • मूर्तिकार (मूर्तिकार, पत्थर तराशने वाला), पत्थर तोड़ने वाला
  • सुनार (सोनार)
  • कुम्हार (कुम्हार)
  • मोची (चर्मकार)/जूता कारीगर/फुटवियर कारीगर
  • राजमिस्त्री (राजमिस्त्री)
  • टोकरी/चटाई/झाड़ू निर्माता/कयर बुनकर
  • गुड़िया और खिलौना निर्माता (पारंपरिक)
  • नाई (नाई)
  • माला निर्माता (मालाकार)
  • धोबी (धोबी)
  • दर्जी (दारज़ी)
  • मछली पकड़ने का जाल निर्माता

पीएम विश्वकर्मा योजना के क्या फायदे हैं?

इस योजना के तहत 18 पारंपरिक काम शामिल किया गया है इनमे लोगों को ट्रेंड करने के लिए मास्टर ट्रेनरों के जरिए ट्रेनिंग भी दी जाएगी। इसके अलावा, लोगो को 500 रुपये प्रतिदिन स्टाइपेंड भी मिलेगा। आप इस योजना के माध्यम से पीएम विश्वकर्मा सर्टिफिकेट, आईडी कार्ड, बेसिक और एडवांस ट्रेनिंग से जुड़े स्किल अपग्रेडेशन, 15,000 रुपये का टूलकिट प्रोत्साहन, डिजिटल ट्रांजेक्शन के लिए इन्सेंटिव प्राप्त कर सकते है|

विश्वकर्मा योजना के लिए पात्रता

  • भारत का नागरिक होना चाहिए।
  • योजना में शामिल 18 ट्रेड में से किसी एक से जुड़ा हो।
  • आवेदक की उम्र 18 वर्ष से अधिक और 50 साल से कम हो।
  • आवेदक के पास मान्यता प्राप्त संस्थान से संबंधित ट्रेड में सर्टिफिकेट हो।
  • योजना में शामिल 140 जातियों में से किसी एक से हो।

विश्वकर्मा योजना के लिए जरूरी दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  • बैंक पासबुक 
  • वैध मोबाइल नंबर
  • पैन कार्ड
  • आय प्रमाण पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र
  • पहचान पत्र

पीएम विश्वकर्मा योजना में आवेदन कैसे करें

  • सबसे पहले, आवेदक को आधिकारिक वेबसाइट pmvishwakarma.gov.in पर जाएं।
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको Apply Online लिंक पर क्लिक करें।
  • पीएम विश्वकर्मा योजना में रजिस्ट्रेशन करें।
  • रजिस्ट्रेशन नंबर और पासवर्ड आपके मोबाइल पर SMS से आ जाएगा।
  • रजिस्ट्रेशन फॉर्म को पूरा भरें।
  • भरे गए फॉर्म के साथ मांगे गए सभी दस्तावेजों को स्कैन कर अपलोड करें।
  • इसके बाद सबमिट का बटन पर क्लिक कर दे|

Leave a Comment