मेरा गांव मेरा गौरव पोर्टल 2024 / Mera Gaon Mera Gaurav

मेरा गांव मेरा गौरव पोर्टल 2024:- हरियाणा सरकार एक पोर्टल जिसका नाम “मेरा गांव मेरा गौरव पोर्टल” की शुरुआत करने जा रही है, इसे माय विलेज माय प्राइड के नाम से भी जाना जाता है| इस पोर्टल के माध्यम से हरियाणा राज्य में रहने वाले बड़े बड़े उद्योगपति अपने पूर्वजों के गांव के विकास के लिए मदद के लिए आगे आ सकते है| यह पोर्टल कॉर्पोरेट सामाजिक जिम्मेदारी (सीएसआर) के अंतर्गत शुरू किया गया| हरियाणा सरकार योजनाओं के जरिये प्रदेश का विकास के लिए 1000 करोड़ तक की मदद करने का प्रवाधान कर सकते है |

साल 2018 में, हरियाणा के श्री मान मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर जी ने कॉर्पोरेट सोशल रेस्पोंसिबिलिटी (CSR) समिट के दौरान इसकी जानकारी करते हुए सीएसआर का पोर्टल की शुरुआत की | मेरा गांव मेरा गौरव पोर्टल 2024 के माध्यम से जिला एवं सेक्टर वाइज विकास परियोजनाओं की लिस्ट भी देख सकते है| सीएसआर (CSR) के तहत राज्य के गांवो में शिक्षा, महिला सशक्तिकरण, स्वास्थ्य, स्वच्छता, युवाओं को नौकरी और भी महत्वपूर्ण मुद्दों पर ध्यान देने पर जोर दिया जायेगा।

मेरा गांव मेरा गौरव पोर्टल
मेरा गांव मेरा गौरव पोर्टल (image: haryanacsr.org)

मेरा गांव मेरा गौरव पोर्टल हरियाणा 2024

पोर्टल मेरा गांव मेरा गौरव पोर्टल 2023
किसने शुरू किया मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर
कब घोषणा की कॉर्पोरेट सोशल रेस्पोंसबिलिटी (CSR) समिट 2018
विभाग का नाम ग्रामीण विकास विभाग
तारीख12 नवंबर 2018
सीएसआर पोर्टल की ऑफिसियल वेबसाइट www.haryanacsr.org

मेरा गांव मेरा गौरव पोर्टल हरियाणा

ग्रामीण विकास विभाग (Rural Development Dept) ने सेवा की भावना के रूप में बढ़ाने के लिए मेरा गांव मेरा गौरव पोर्टल (Mera Gaon Mera Gaurav Portal) लॉन्च किया है | यह पोर्टल सीएसआर योगदान को दायित्व के बजाए सेवा की भावना पर ध्यान केंद्रित करेगा | मेरा गांव मेरा गौरव पोर्टल लोगों को उनके गांवों से जोड़ने, विकास कार्यों को सूचीबद्ध करने के रूप में कार्य करेगा |

12 नवंबर को हरियाणा सीएसआर शिखर सम्मेलन (Haryana CSR Summit) 2018 में आयोजित हुई, मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने औद्योगिक और कॉर्पोरेट घरों से उनके सीएसआर योगदान को अपने लाभ के 2% से 5% तक बढ़ाने और राज्य सरकार को विभिन्न सीएसआर परियोजनाओं (CSR Projects) के शीघ्र निष्पादन में भागीदार बने, का आग्रह किया। इसके अलावा, राज्य सरकार सीएसआर के तहत वार्षिक वर्तमान योगदान 350 करोड़ रुपये से बढ़ाकर 1000 करोड़ रुपये के लक्ष्य को करने पर विचार कर रही है|

मुख्यमंत्री श्री मान मनोहर लाल खट्टर जी ने हरियाणा सीएसआर पुरस्कार (Haryana CSR Awards) 2018 से सीएसआर अंतरिक्ष में उत्कृष्ट योगदान के लिए निगमों, सार्वजनिक उद्यमों और उप-आयुक्तों को भी सम्मानित किया।

मेरा गांव मेरा गौरव पोर्टल के महत्वपूर्ण बिंदु (Important features)

  • राज्य में बहुत से ऐसे गांव है, जहाँ पर आम सविधाये जैसे बिजली, पानी रोजमर्रा वाली चीजें भी नहीं पहुँच पाई है न इन गांवो का आर्थिक विकास हुआ है |
  • कुछ ऐसे भी राज्य में है जिन पर सरकार की भी नजर नहीं गई है| छोटे छोटे गांव से निकलकर बड़ा उद्योगपति बनने के बाद अपने उन गांव के विकास के लिए योगदान दे सकते है|
  • यह पोर्टल उद्योगपतियो को उनके गांव से जोड़कर अपने पुश्तैनी गांव की आर्थिक तौर पर सहायता करने हेतु उने आगे आने का अवसर प्रदान करेगा जिससे इन छोटे गांव का भी पूर्ण विकास हो सके|
  • यह पोर्टल बड़े बड़े औद्योगिक कारखानों और निगमों द्वारा किये विकास कार्यों को सूचीबद्ध करेगा|
  • ग्रामीण विकास विभाग (Rural Development Dept) ने सभी पंचायतो को गांव के विकास की योजना को तैयार करने, आवश्यक बजट की रिपोर्ट को तैयार करने के लिए कहा है|
  • इसके अलावा, सभी पंचायत को सारी जानकारी इस ऑफिसियल पोर्टल में डालने के लिए कहा है |
  • उद्योगपति अपने हिसाब से गांव का चयन कर पाए और उसके विकास में सहायक हो सकते है.

ऐसी ही और भी सरकारी योजनाओं की जानकारी पाने के लिए हमारी वेबसाइट yojanaalert.com को बुकमार्क जरूर करें ।

Leave a Comment